राजा और मूर्ख बंदर | Raja Air Murkh Monkey Kids Story In Hindi

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे नए ब्लॉक के अंदर तो दोस्तों आज किस पोस्ट के माध्यम से मैं आपको एक नई और मजेदार कहानी देने जा रहा हूं दोस्तों इसको पढ़कर आपको बहुत अच्छा लगेगा उस कहानी का नाम है। राजा और मूर्ख बंदर। दोस्तों बिना देरी किस खाने को प्रारंभ करते हैं।


राजा और मूर्ख बंदर

राजा और मूर्ख बंदर | Raja Air Murkh Monkey Kids Story In Hindi
राजा और मूर्ख बंदर | Raja Air Murkh Monkey Kids Story In Hindi


बहुत समय पहले की बात है। मीरापुर नामक बड़ा सारा राज्य था। उस राज्य का राजा महाबली राजा था। वह राजा कभी-कभी जंगल में शिकार के लिए जाया करता था।जब राजा जंगल में शिकार करने के लिए गया तब उस राजा को जंगल में एक बंदर मिला। वह बंदर उस राजा को पेड़ से फल तोड़कर दे रहा था। यह बात राजा को उसकी बहुत प्रिय लगी।


बंदर द्वारा ऐसा व्यवहार करने पर राजा को बहुत अच्छा लगा तब राजा ने सोचा कि क्यों न इस बंदर को मैं अपने साथ अपने महल में लेकर चलो और वह राजा उस बंदर को अपने साथ महल में लेकर चल जाता है। और वह बंदर राजा के साथ सब कहीं पर जाता था जैसे शिकार करने के लिए भी जाता था महल में भी वह राजा के साथ ही रहता था इस वजह से मैं बंदर राजा का अति प्रिय बन गया।


वह बंदर काफी मूर्ख स्वभाव का था।लेकिन फिर भी वह राजा का प्रिय था इस वजह से उसे सभी जगह पर आने-जाने की इजाजत थी वह महल के सभी इलाकों में घूमता रहता था और उसे कोई रोक तो करने वाला नहीं था कि कोई राजा का अति प्रिय था। उस बंदर को राजा कि कमरे में भी जाने की इजाजत थी।

जब एक दिन राजा अपने कमरे में शांति से सो रहा था और वह बंदर राजा की रखवाली कर रहा था। तब अचानक वहां पर एक मक्खी आई और वह मक्खी राजा की नाक पर आकर बैठ गई लेकिन उस बंदर ने उस मक्खी को वहां से उड़ा दिया फिर भी मैं मक्खी वापस आ गई और राजा की नाक पर बैठ गई। बंदर ने उस मक्खी को दो बार से राजा की नाक पर से उड़ा दिया। लेकिन वह मक्खी फिर से वापस आ गई और राजा की नाक पर आकर बैठ गई बंदर ने तीसरी बार भी उस मक्खी को उड़ा दिया।लेकिन मैं मक्खी बार-बार इस प्रकार से आ रही थी तब बंदर का दिमाग खराब हो गया और उसे गुस्सा आ गया। तब बंदर ने तलवार ली और उस मक्खी को मारने के लिए जैसे ही राजा के नाक की तरफ आगे बढ़ाया मक्खी नाक से उड़ गई और राधा की नाक कट गई और वह घायल हो गया।


शिक्षा

इस कहानी से हमें शिक्षा मिलती है कि हमें मूर्ख आदमी पर विश्वास नहीं करना चाहिए क्योंकि उनकी मूर्खता हमको कभी भी हानि पहुंचा सकती है।

Post a Comment

0 Comments